एट्रोसिटी एक्ट एवं आरक्षण को खत्म करने के लिए क्षत्रिय महासभा ने भरी हुंकार


अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने जातिगत आरक्षण व एट्रोसिटी एक्ट समाप्त करने व जातिगत आरक्षण को दस वर्षों के लिए पुन: वृद्धि के विरोध में प्रदेश अध्यक्ष पहलाद सिंह जी तंवर के आह्वान पर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन दिया। कोठी पर कलेक्टर के प्रतिनिधि एसडीएम संजय साहू ने ज्ञापन लिया।


उज्जैन। अभा क्षत्रिय महासभा ने जातिगत आरक्षण व एट्रोसिटी एक्ट समाप्त करने व जातिगत आरक्षण को दस वर्षों के लिए पुन: वृद्धि के विरोध में राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन दिया। कोठी पर कलेक्टर के प्रतिनिधि एसडीएम संजय साहू ने ज्ञापन लिया।
अभा क्षत्रिय महासभा के प्रदेश मीडिया प्रभारी राजेन्द्र सिंह भदौरिया ने बताया कि महासभा के राष्ट्रीय संगठन मंत्री अंगदसिंह भदौरिया, महामंत्री राजेश सिंह कुशवाह, एवं राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं मध्य प्रदेश प्रभारी शिवसिंह परिहार के नेतृत्व में ज्ञापन दिया गया।
श्री भदौरिया ने बताया कि जातिगत आरक्षण से देश की प्रतिभाओ का पलायन हो रहा है। और जो बच जाते हैं वो कुंठित हो जाते हैं। इसी प्रकार से एस सी एस टी एक्ट से भी निर्दोषों को फसाया ज रहा है। वर्तमान समय मे इनकी आवश्यक्ता नहीं है इसलिए हम ज्ञापन के माध्यम से इसको पूर्ण रूप से समाप्त करने की मांग करते हैं।
ज्ञापन देने वालों में प्रमुख रूप से महासभा के राष्ट्रीय महामंत्री राजेशसिंह कुशवाह, राष्ट्रीय संगठन मंत्री एवं मध्य प्रदेश प्रभारी शिवसिंह परिहार, संभागीय अध्यक्ष महेंद्रसिंह बैस, युवा संभागीय अध्यक्ष धरमवीर सिंह भाटी, कार्यकारी अध्यक्ष राजेश सिंह भदौरिया, उपाध्यक्ष विजयसिंह भदौरिया, शहर जिला अध्यक्ष बलवीर सिंह पँवार,कार्यकारी शहर जिलाध्यक्ष उदयपालसिंह सेंगर,युवा शहर जिलाध्यक्ष रामसिंह जादौन, महिला महासभा प्रदेशाध्यक्ष उपमा चैहान, जिलाध्यक्ष राजकुमारी ठाकुर, संभागीय अध्यक्ष सुषमा पंवार, युवराजसिंह भैंसोदा, बुद्धसिंह सेंगर, राजेंद्रसिंह तोमर, अशोकसिंह गेहलोत, शारदा ठाकुर, रंजना राजपूत, चांदनी सिंह, नीरा यादव, प्रमिला चैाहान, राखी मिश्रा मौजूद थीं।


Popular posts