<no title>


उज्जैन। प्राचीन नगरी अवंतिकापुरी अनादि काल से देवी पूजा की एवं धार्मिक मान्यता प्राप्त सिद्ध नगरी रही है। इस नगरी ने कई आपदाओं के क्षण साक्षात देखे हैं, और उनका निदान भी हुआ है। ऐसे में धर्मस्व मंत्रालय मध्यप्रदेश व जिला प्रशासन अवंतिकापुरी की पुरानी मान्यताओं से कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी को रोकने के लिए नगर पूजा आहूत करें। उक्त मांग भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सुरेन्द्र सांखला ने की है। उन्होंने कहा कि जब-जब अकाल पड़ा, तब-तब शक्तियों के सहारे लोग बचे हैं। अति वर्षा की रोकथाम शिप्रा पूजन से प्रभावित होकर रुकी है।



मंगलनाथ पर भगवान को जल में भरने और नगर पूजा के घोषित शासकीय प्रावधानों से उज्जैन में उत्तम वर्षा हुई है। ऐसे में विपत्ति के इस घोर विराट आपदा से निपटने के लिए धर्मस्व विभाग मध्यप्रदेश पहल करें। सांखला ने यह भी कहा कि इसमें प्रशासन का कोई अतिरिक्त फंड या खर्चा ना के बराबर है। कुछ मंदिरों के पुजारी,  राजस्व विभाग के निरीक्षक व आसपास ग्राम के चौकीदार संयुक्त रूप से नगर पूजा संपादित करा सकते हैं। जिसमें देवी अथवा नगर में विराजमान अनेक शक्तिमान स्थापित मूर्तियों पर पूजा अथवा शराब चढ़ाने को नगर पूजा की मान्यता दी गई है। निश्चित ही यह कार्य करने से उज्जैन ही नहीं अपितु देश में इस महामारी पर नियंत्रण की संभावना बनेगी। सांखला ने कहा कि विपदा की इस घड़ी में दवा और दुआ दोनों का प्रयोग स्वस्थ संसार के लिए अवंतिकापुरी उज्जैन और भारत के लिए जरूरी है।


Popular posts
ब्राह्मण युवासंघ अध्यक्ष महेन्द्र व्यास ने की संयोजकों की नियुक्ती
Image
निगम द्वारा शहर मे निरंतर सफाई कार्य, बिना मास्क के राहगीरो पर सतत चालानी कार्यवाही
Image
युवा कांग्रेस देवास के साथियों द्वारा भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष  के  1 वर्ष का कार्यकाल पुर्ण होने पर कोरोना से बचने हेतु मास्क वितरण किए 
अशासकीय क्षेत्र के शिक्षकों की समस्याओं के लिए पीएमओ ने अधिकारी नियुक्त किया
डोडाचूरा के मामले में मनासा पुलिस ने निर्दोष को फंसाया —  बंजारा रूप सेना संगठन में  आक्रोश, एएसपी को सौंपा ज्ञापन, टीआई सहित दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की मांग
Image