अब भाईशब्द बोलने पर होगी कार्रवाही


पशुपालन विभाग के कर्मचारियों को जारी किए गए एक फरमान की इन दिनों हर तरफ चर्चा हो रही है. यह फरमान पशुपालन और पशुचिकित्सा सेवा के निदेशक रत्नाकर राउत ने जारी किया है. इस फरमान के मुताबिक अगर किसी कर्मचारी ने अपने किसी वरिष्ठ के लिए 'भाई' शब्द का इस्तेमाल किया तो उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी.


निदेशक की ओर से 16 नवंबर को इस आदेश की आधिकारिक अधिसूचना जारी की गई. इसमें जूनियर अधिकारियों और फील्ड में काम करने वाले कर्मचारियों को चेताया गया है कि वो कार्यालय परिसर में वरिष्ठों के सामने आने के बाद या अपनी बात रखते वक्त अदब (डेकोरम) का ध्यान रखें.


निदेशक ने अपने आदेश में कहा है कि निर्देशों के उल्लंघन को गंभीरता से लिया जाएगा. साथ ही दोषी के खिलाफ कानून के हिसाब से समुचित और कड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी.


ये आदेश निदेशक राउत के संज्ञान में ये आने के बाद जारी किया गया कि कुछ जूनियर स्तर के अधिकारी राज्य निदेशालय और फील्ड दफ्तरों में अपने वरिष्ठों से डील करते वक्त डेकोरम का सही से ध्यान नहीं रख रहे हैं. मिसाल के तौर पर तकनीकी अधिकारी अपने से वरिष्ठ सब डिविजनल वेटेरनरी ऑफिसर्स/चीफ डिस्ट्रिक्ट वेटेरनरी ऑफिसर्स और ज्वाइंट डायरेक्टर्स के लिए 'भाई' शब्द का इस्तेमाल कर रहे हैं.


निदेशक राउत ने कहा कि किसी भी सरकारी कर्मचारी का अपने से वरिष्ठों को इस तरह से संबोधित करना उचित नहीं है. यह ना सिर्फ ओडिशा सरकार सेवा आचरण, नियम 1959 का उल्लंघन है बल्कि अतिक्रमण है.


Popular posts
युवा कांग्रेस देवास के साथियों द्वारा भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष  के  1 वर्ष का कार्यकाल पुर्ण होने पर कोरोना से बचने हेतु मास्क वितरण किए 
अशासकीय क्षेत्र के शिक्षकों की समस्याओं के लिए पीएमओ ने अधिकारी नियुक्त किया
प्रकृति का बचाव ही देश को आगे बढ़ाएगा - महापौर श्रीमती मीना विजय जोनवाल नगर निगम द्वारा नक्षत्र, राशि एवं ग्रहो पर आधारित वाटिका का निर्माण किया गया    
Image
4 लोगों ने मंदिर फिर छोड़ गए सोने-चांदी से भरा बैग
Image
संपत्ति कर एवं यूजर चार्जेस में छूट का पूरक प्रस्ताव प्रस्तुत करेगी पार्षद माया राजेश त्रिवेदी