पत्रकार हित में रेलवे रियायती कार्डों का नवीनीकरण शुरू करें - सिटी प्रेस क्लब उज्जैन अध्यक्ष ने मण्डल रेल प्रबंधक को मांग पत्र भेजा


उज्जैन। कोविड-19 के तहत रेलवे सेवाएं लॉक डाउन पड़ी है। इसके चलते पत्रकारों के रियायती कार्ड भी नवीनीकरण नहीं किए जा रहे हैं। इसी को लेकर सिटी प्रेस क्लब उज्जैन अध्यक्ष संदीप मेहता ने मण्डल रेल प्रबंधक को मांग पत्र भेजा है।
कोरोना संक्रमण के दौर में रेलवे की सभी सेवाएं वैसे तो बंद पड़ी हुई है। इन्हीं में पत्रकारों को मिले रियायती कार्डों के नवीनीकरण और नए कार्डों के बनाने को लेकर भी सेवाएं ठप्प पड़ी हुई है। इसके चलते पत्रकारों के रेलवे रियायती कार्ड न तो नए बन पा रहे हैं और न ही इनका नवीनीकरण ही हो पा रहा है। मध्यप्रदेश शासन दो वर्ष के लिए पत्रकारों को अधिमान्यता प्रदान करता है। प्रत्येक दूसरे वर्ष इनका नवीनीकरण किया जाता है। ऐसे में जिन पत्रकारों को इस वर्ष नवीनीकरण करवाना है वे रेलवे के रियायती कार्डों से वंचित रह सकते हैं। इस मामले में पश्चिम रेलवे रतलाम मण्डल जनसंपर्क अधिकारी श्री जयंत से चर्चा किए जाने पर उन्होंने बताया कि रेलवे की अधिकांश सेवाएं वर्तमान में स्थगित चल रही है। तमाम कार्यालय कोरोना संक्रमण को देखते हुए बंद किए गए हैं। व्यवस्थाओं के बहाल होते ही नवीनीकरण कार्यालय भी तत्काल ही शुरू किया जाएगा और पत्रकारों के रियायती कार्डों के नवीनीकरण और नए कार्ड बनाने का कार्य भी व्यवस्थित होगा। केन्द्र के आदेश के अनुसार ही रेलवे कोरोना अनलॉक की व्यवस्था को लागू करेगा।   


Popular posts