दुष्कर्म मामलों के खिलाफ जंतर-मंतर पर आमरण


देशभर में बच्चियों और महिलाओं से बढ़ते दुष्कर्म के मामलों के विरोध में दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने भूख हड़ताल पर बैठ गई हैं। इससे पहले स्वाति मालीवाल ने अपने ट्विटर अकाउंट से यह जानकारी दी थी कि पुलिस उन्हें हड़ताल करने से रोक रही है। हालांकि इसके बावजूद स्वाति मालीवाल हड़ताल पर बैठ चुकी हैं। उन्होंने लिखा था कि, 'पुलिस हमें जंतर-मंतर पर बैठने नहीं दे रही। रातभर पुलिस ने पूरा जंतर-मंतर बैरिकेडिंग करके टेंट, माइक और टॉयलेट नहीं लगने दिया। साफ बोल रहे हैं अनशन नहीं करने देंगे! देश में एक महिला शांति से अनशन भी नहीं कर सकती? केंद्र सरकार को ऐसा भी क्या डर? क्या सच में लोकतंत्र है?'उन्होंने आगे लिखा था, 'चाहे कुछ हो जाए, पुलिस और केंद्र कितनी भी कोशिश कर ले, मेरा आमरण अनशन हर हाल में जारी रहेगा। जब तक केंद्र पूरे देश के लिए ऐसा सिस्टम नहीं बनाती कि रेपिस्ट को हर हाल में छह महीने में फांसी हो, तब तक मैं नही उठूंगी। पहले राजघाट और फिर सीधे जंतर-मंतर जा रही हूं। जय हिंद।'इसके साथ ही स्वाति ने प्रधानमंत्री को भी महिला सुरक्षा के मुद्दे पर पत्र लिखा है। उन्होंने लिखा, 'मोदी जी को पत्र। मैं आमरण अनशन करूंगी जब तक वो अपने वादे पूरे न कर दें। देश में पुलिस के संसाधन और जवाबदेही बढ़ाई जाए और फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाए जाएं। दिल्ली पुलिस को 66,000 पुलिसकर्मी तुरंत दिए जाएं और 45 फास्ट ट्रैक कोर्ट दिल्ली में स्थापित हों। दोषी को हर हाल में और तुरंत सजा दो!'


Popular posts
युवा कांग्रेस देवास के साथियों द्वारा भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष  के  1 वर्ष का कार्यकाल पुर्ण होने पर कोरोना से बचने हेतु मास्क वितरण किए 
अशासकीय क्षेत्र के शिक्षकों की समस्याओं के लिए पीएमओ ने अधिकारी नियुक्त किया
प्रकृति का बचाव ही देश को आगे बढ़ाएगा - महापौर श्रीमती मीना विजय जोनवाल नगर निगम द्वारा नक्षत्र, राशि एवं ग्रहो पर आधारित वाटिका का निर्माण किया गया    
Image
4 लोगों ने मंदिर फिर छोड़ गए सोने-चांदी से भरा बैग
Image
संपत्ति कर एवं यूजर चार्जेस में छूट का पूरक प्रस्ताव प्रस्तुत करेगी पार्षद माया राजेश त्रिवेदी